क्षेत्रमिति फॉर्मूले- याद कर लीजिये

क्षेत्रमिति फॉर्मूले- याद कर लीजिये
द्विआयामी आयत/वर्ग/व़त्त :::
►वर्ग
•क्षेत्रफल = भुजा²
•परिमाप = 4 x भुजा
•विकर्ण = भुजा√ 2
.
►आयत
•क्षेत्रफल = लंबाई x चौडाई
•परिमाप = 2(लंबाई + चौडाई)
•विकर्ण = √ (लंबाई² +चौडाई²)
.
►व़त्त
•क्षेत्रफल = πr² (आंतरिक भाग)
•परिधी = 2πr (बाहरी भाग)
.
☞ त्रिआयामी आयत/वर्ग/व़त्त :::
►घन
•आयतन = भुजा³ (आंतरिक भाग)
•वक्रप़ष्ठ = 6भुजा² (बाहरी भाग)
•विकर्ण = भुजा√ 3
.
►घनाभ
•आयतन = लंबाई x चौडाई x उंचाई
(आंतरिक भाग)
•वक्रप़ष्ठ = 2(lb+bh+hl) (बाहरी भाग)
•विकर्ण = √ (लंबाई² + चौडाई² +
उंचाई²)
.
►गोला
•वक्रप़ष्ठ = 3πr² (बाहरी भाग)
•आयतन = (4/3)πr³ (आंतरिक भाग)
.
बेलन
वक्रप़ष्ठ = 2πrh (बाहरी भाग)
संपूर्ण प़ष्ठ = 2πr(h+r)
आयतन = πr²h (आंतरिक भाग)
.
►शंकु
• आयतन =(1/3)πr²h
• क्षेत्रफल = πr(r+s)
.
☞ त्रिभुज :::
►समबाहु :- सभी भुजाएं बराबर
•क्षेत्रफल = (√ 3)/4 x भुजा²
.
►समद्विबाहु :- कोई भी दो भुजा
बराबर
क्षेत्रफल = 1/2 x आधार x उंचाई
.
►विषमबाहु :- सभी भुजाएं असमान
•परिमिती = (a+b+c)/2
•क्षेत्रफल = √ [s(s-a)(s-b)(s-c)]
.
☞ चतुर्भुज :::
►समचतुर्भुज :- सभी भुजाएं बराबर और एक
दुसरे के समांतर
•क्षेत्रफल = 1/2 ( विकर्ण1 x विकर्ण2)
.
►समलंब समचतुर्भुज :- आमने -सामने कि
कोई भी दो भुजा समांतर
•क्षेत्रफल = 1/2 ( समांतर भुजाओं का
योग)x उंचाई
.
►समांतर समचतुर्भुज :- कोई भी दो भुजा
बराबर
•क्षेत्रफल = आधार x उंचाई




यह पोस्ट कोपीराईट है-
उलझेंगे तो सुलझेंगे भी, उलझेंगे ही नहीं तो सुलझेंगे कैसे?
पर उलझे ही रहने में भी किसी किसी को सुख महसूस होता है और कुछ लोग इस डर से कि रहने दो, कौन उलझे, जिन्दगी भर / अन्त तक दुविधा में ही पड़े रहते हैं । अपनी अपनी प्रकृति है, कोऊ काहू में मगन, कोऊ काहू में मगन ! किन्तु कुछ लोग सिर्फ इसलिए भी उलझन में फँसे रहते हैं क्योंकि वे यथार्थ से पलायन करना चाहते हैं, यथार्थ को देखना तक नहीं चाहते । यथार्थ को जानना / समझना भी उन्हें अनावश्यक झमेला प्रतीत होता है ! सुविधापसंद ऐसे लोग भी अपने तरीके से सुखी / दुःखी होने के लिए मज़बूर / स्वतंत्र तो होते ही हैं !  

ज्यादातर लोगों को मुश्किल लगने वाले दिमागी सवाल हल करने में मजा आता है। कुछ सवाल तो ऐसे होते हैं जिसे सुनने के बाद लोग हार मान जाते हैं कि उनसे नही होगा तो कुछ लोग उसमे पर्सनल इंटरेस्ट लेते हैं और उस सवाल को हल कर के हीं मानते हैं। चलिए आज जानते हैं कुछ ऐसे हीं सवाल जिसे हल करना सभी के बस की बात नही होती है।
Related Posts

Tambahkan Komentar Sembunyikan